loading...

Top 20 Gharelu Nuskhe टॉप 20 घरेलू नुस्खें


टॉप 20 घरेलू नुस्खें एक बार अपना कर तो देखिए 


हमारे आस-पास कई ऐसी चीजें होती हैं, जिनका सेवन तो हम रोजाना करते हैं, लेकिन उनके गुणों से अनजान ही रहते हैं। आइए आज हम आपको ऐसी ही कुछ इस्तेमाल की जाने वाली चीजों के बारे में बताते हैं जो कई गुणों से भरपूर हैं। 

यदि आप सही मायने में अपनी बीमारी कम करना चाहते हैं, तो आपको उसके लिए कुछ कारगार नुस्खें अपनाने की जरूरत है। कुछ घरेलू नुस्खें भी है, जिनको अपनाकर आप कई बीमारियां कम कर सकते है।

गुलाब का फूल से दूर होगी आंखों की थकावट 

देसी गुलाब की 9-10 पंखुड़ियों को एक गिलास पानी में कुछ घंटों के लिए भिगो दें। इस पानी से नियमित रूप से आंखें धोने पर थकावट दूर हो जाती है।

बादाम  अल्सर में फायदेमंद 
अल्सर के मरीजों को बादाम का सेवन करना चाहिए। बादाम पीसकर इसका दूध बना लीजिए। इस दूध को सुबह-शाम पीने से अल्सर ठीक हो जाता है।

सौंफ  नहीं होगी कब्ज 
सौंफ को मिश्री या चीनी के साथ पीस लें। सोते समय लगभग 5 ग्राम चूर्ण हल्के गुनगुने पानी के साथ लें। पेट की समस्या नहीं होगी व गैस और कब्ज दूर होगी।

हींग हींग से निकलेगा कांटा 

यदि शरीर के किसी हिस्से में कांटा चुभ गया हो तो उस जगह पर हींग का घोल भर दें। इससे दर्द भी खत्म होगा और कांटा भी अपने आप निकल जाएगा।

शहद  चले जाएंगे दाग 
चिकन पॉक्स के घावों को सूख जाने के बाद उन पर जमी पपड़ी पर अच्छी तरह से शहद लगाएं। इससे इन घावों के दाग नहीं पड़ेंगे।

वजन घटाने के लिए 
मशरूम्स में पोषण का खजाना तो है ही, साथ ही इसमें कई औषधीय गुण भी हैं। इसके सेवन से व्यक्ति की रोग-प्रतिरोधक क्षमता में आश्चर्यजनक रूप से इजाफा होता है। एक अध्ययन के अनुसार यदि वजन कम करना हो तो रेड मीट बंद करके व्हाइट बटन मशरूम खाना शुरू कर देना चाहिए। इसका फायदा हर एज ग्रुप के लोगों को होता है।

मशरूम्स
बलगम का अचूक इलाज 

बलगम होने पर मूली का जूस पीने से फायदा मिलता है। यह बलगम को डाइल्यूट कर उसे शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है।

मूली
खूबसूरत शरीर और चेहरे के लिए 

केसर की खूबी केवल रंग तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इसके और भी कई फायदे हैं। यह सेहत की भी कुंजी है। बच्चे के गोरे रंग के लिए गर्भवती स्त्रियों को दूध में केसर मिलाकर दिया जाता है। इसके अलावा पेट संबंधित परेशानियों के इलाज के लिए भी केसर बहुत फायदेमंद है। चोट लगने या झुलसने पर भी केसर का लेप लगाने से फायदा होता है।

केसर
दर्द हटानेवाली औषधि \ दर्द निवारक 

हरी पत्तेदार सब्जियों और मसालों में मेथी की अपनी खास जगह है। मेथी कॉड लीवर ऑयल की तरह घुटनों का दर्द, स्नायु रोग, बहुमूत्र रोग, सूखा रोग, खून की कमी आदि में लाभदायक रहती है। मुंहासे होने पर मेथी की पत्तियां पीसकर चेहरे पर लगाएं फायदा मिलेगा।

सेहतमंद मेथी
डार्क सर्कल निकालें

ककड़ी और आलू के टुकड़ों को आंखों पर रखने से आंखों को ठंडक पहुंचती है और डार्क सर्कल कम होते हैं। आंखों में गुलाबजल डालना भी लाभकारी है। अक्सर धूप में घूमने से भी डार्क सर्कल बढ़ने लगते हैं। इसलिए धूप में घूमते वक्तसन ग्लासेस का इस्तेमाल करें।

आलू और ककड़ी
ऊर्जा बढ़ाने के लिए 

राजमा में भरपूर मात्रा में आयरन होता है। आयरन शरीर का मेटाबॉलिज्म और ऊर्जा बढ़ाने का मुख्य सोर्स होता है। इससे पूरे शरीर में ऑक्सीजन का सकरुलेशन भी काफी बढ़ जाता है। इसलिए व्यक्ति खुद को ऊर्जावान महसूस करता है। राजमा में फाइबर भी काफी होता है। फाइबर काबरेहाइड्रेट का मेटाबॉलिज्म रेट कम करते हैं। इस वजह से ब्लड शुगर नियंत्रित रहता है। डायबिटिक इसे बहुत आराम से खा सकते हैं।

राजमा 
चली जाएगी पफीनेस 

आंखों की पफीनेस दूर करने के लिए एलोवेरा बहुत काम आता है। एक स्वच्छ कपड़े को एलोवेरा जूस में डूबोकर उससे आंखें पोंछ लें। ऐसा लगातार करने से पफीनेस चली जाएगी।

एलोवेरा
दूर होगी मुंह की दुर्गध 

मुंह से दुर्गध आ रही हो तो एक चम्मच सरसों के तेल में आधा चम्मच नमक मिलाकर इससे मसूड़ों की मालिश करें। मसूड़े मजबूत होंगे और दरुगध चली जाएगी।

सरसों का तेल
ऐसे मिलेगी राहत 

मॉर्निग सिकनेस से परेशान हों तो 15-20 मुलायम कड़ी पत्तों का रस निकालकर दो चम्मच नीबू के रस में मिलाएं और एक चम्मच शहद के साथ दिन में 3-4 दफा लें।
loading...
Previous Post
Next Post

post written by: