अमरूद के पत्तों में मौजूद ऐंटीऑक्सिडेंट, ऐंटीबैक्टीरियल और ऐंटीइंफ्लेमेटरी गुण  कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में मदद करते हैं।

अमरूद की ताजी पत्तियों का रस त्वचा, बाल और स्वास्थ्य की देखभाल के लिए बहुत अच्छे होते है। इसके रस से बनी हुई चाय भी बहुत ही फायदेमंद होती है।

जापान में यकुल्ट सेंट्रल इंस्टिट्यूट में अमरूद के पत्तों से बनी चाय पर एक शोध किया गया। शोध के निष्कर्ष के अनुसार, अमरूद के पत्तों से बनी चाय में अल्फा-ग्लूकोसाइडिस एंजाइम गतिविधि को कम कर मधुमेह रोगियों में प्रभावी रूप से रक्त शर्करा को कम करती है। इसके अलावा यह सुक्रोज और माल्टोज को सोखने से शरीर को रोकती है, जिससे शुगर का स्तर नियंत्रित रहता है।

अमरूद के पत्ते शरीर के वजन को घटाने में सहायता करते है। यह स्टार्च को शुगर में बदलने की प्रक्रिया को रोकते हैं। इतना ही नहीं अमरूद के पत्तों में मौजूद यौगिक ब्लड प्रेशर और हार्ट रेट की दर को कम करने में मदद करते हैं।

पेचिश के इलाज के लिए भी अमरूद के पत्ते बेहद फायदेमंद माने जाते है। इसके लिए अमरूद के पत्तों और जड़ों को लेकर 90 डिग्री पर 20 मिनट के लिए उबालें। इस पानी को छानकर दिन में दो बार पीने से राहत मिलेगी।

अमरूद के पत्तों से बनी चाय के सेवन से ब्लड लिपिड, ब्लड में कोलेस्ट्रॉल का निम्न स्तर और अस्वस्थ ट्राइग्लिसराइड्स में सुधार करने में मदद मिलती है।
loading...