loading...

क्या आप भी खून की कमी से हैं परेशान अपनाएं ये घरेलू उपाय, How to increase hemoglobin in the blood


रोजमर्रा की जिंदगी में आजकल लोग इतने व्यस्त रहने लगे हैं कि वह अपनी जीवनशैली पर ही ध्यान नहीं दे पाते। जिस वजह से शरीर कई बीमारियों का शिकार हो जाता है। ऐसी ही एक बीमारी है शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी होना। 

खून की कमी एक आम समस्या है जो पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में अधिक देखी जाती है। जब खून में लाल रक्त कणिकाओं की कमी हो जाती है तो शरीर में हीमोग्लोबिन कम हो जाता है।

हीमोग्लोबिन की कमी के लक्षण:
हीमोग्लोबिन एक तरह का प्रोटीन होता है। यह ऑक्सीजन को शरीर के एक हिस्से से दूसरे हिस्से में पहुंचाता है। सांस फूलना, चक्कर आना, ज्यादा सुस्ती आना, थकान, अस्वस्थता, सांस लेने में दिक्कत, घबराहट, सर्दी के प्रति ज्यादा संवेदनशील होना, पैरों और हाथों में सूजन, क्रॉनिक हार्ट बर्न और ज्यादा पसीना आना आदि इसके लक्षण होते हैं।

हीमोग्लोबिन की सही मात्रा:
सामान्यत: पुरुषों में हीमोग्लोबिन की मात्रा 13.5-17.5 मिलीग्राम/ डिसीलीटर और महिलाओं में 12.0-15.5 मिलीग्राम/ डिसीलीटर होनी चाहिए। इसके होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे आयरन, फोलिक एसिड, विटामिन बी 12, विटामिन सी की कमी। आमतौर पर इस बीमारी को एनीमिया के नाम से जाना जाता है।

हीमोग्लोबिन को कैसे बढ़ाएं:
अगर शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर कम हो जाए तो रोजाना अपनी डाइट में इन चीजों को शामिल करने से आपको फर्क पड़ेगा।

सब्जियों का सेवन
हीमोग्लोबिन की कमी होने पर आपको अपनी डाइट में ऐसी चीजें शामिल करनी चाहिए जो आयरन और विटामिन की कमी को पूरा करते हैं। ऐसे में पालक, मेथी, चुकुंदर, सेम की फली, टमाटर, राजमा, शकरकंद, गोभी, कद्दू, शिमला मिर्च आदि सब्जियों का सेवन करना चाहिए। फलों में आप पपीता, संतरा, अमरूद, स्ट्रॉबेरी, अंगूर, अनार भी हीमोग्लोबिन का स्तर काफी तेजी से बढ़ाते हैं। आयरन की कमी को पूरा करने के लिए मूंगफली खाएं।

हीमोग्लोबिन की कमी होने पर चुकुंदर काफी फायदेमंद रहता है। इसमें आयरन, फोलिक एसिड, पोटेशियन और फाइबर पाए जाते हैं जिनसे रक्त में लाल कोशिशकाओं का निर्माण तेजी से होता है।
loading...
Previous Post
Next Post

post written by: