आयुर्वेदिक टूथपेस्ट बनाने की विधि , Method of making Ayurvedic toothpaste


आपको बस येनीचे लिखे सामान एकत्रित करने हैं :- 
1:- नारियल तेल 100 ग्राम
2 :- खाने का सोडा 20 ग्राम
3 :- हल्दी पाउडर 50 ग्राम
4 :- पोदीने का सत्व 5 ग्राम
इन चारों सामानों को चौड़े मुँह वाली कटोरी में डालकर बहुत अच्छे से एक सार मिला लें और ध्यान रखें कि हल्दी और खाने के सोडे की कोई गाँठ न बनी रह जाये, हाँलाकि गाँठ बन जाने से कोई समस्या नही है किंतु प्रयोग करते समय यह गाँठ कई बार बहुत खराब लगती है ।

अच्छी तरह मिल जाने पर पीले रंग का एक पेस्ट प्राप्त होगा जो प्रयोग किये जाने के लिये तैयार है।

संग्रहण विधी :- 
अब इस तैयार मिश्रण को एक मेहंदी की तरह एक कीप बनाकर उसमे भर लीजिये और अच्छे से पैक कर लीजिये और सील पैक इस कीप को फ्रीज में रख दीजिये ,जिससे यह मिश्रण थोड़ा कड़ा हो जायेगा और टूथपेस्ट कीप से अपने आप बाहर नही निकलेगा।

प्रयोग विधी :- 
पहली बार प्रयोग करते समय कीप के मुँह को बहुत महीन सा काट लीजिये और अपने टूथब्रश पर जरूरत के अनुसार टूथपेस्ट निकाल लीजिये और कीप को वापिस फ्रीज में रख दीजिये और हमेशा की तरह ब्रश कीजिये ।

ध्यान रखें :-
1:- यदि सही से फ्रीज में ही लगातार रखा जाये तो यह टूथपेस्ट कई महीने तक खराब नही होता है।.

2 :- कुछ लोगों के मन में शंका आयेगी कि हल्दी के कारण दाँतों पर पीलापन चढ़ जायेगा किंतु यह गलत शंका है ।.

3 :- चूँकि इस हानि रहित घरेलू  टूथपेस्ट में हमने कोई झाग बनाने वाला नुक्सानकारी कैमिकल नही डाला है इसलिये इसके प्रयोग के समय झाग नही बनेंगे लेकिन झाग ना बनने के कारण इसके गुणों में कोई कमी नही आ जाती । यह बिना झाग के भी बहुत उत्तम परिणाम आपको देगा ।
Comments


EmoticonEmoticon

Popular

loading...