नींबू का औषधिय में प्रयोग  Nimbu Ka Aushadhiy mein prayog

नींबू का औषधिय में प्रयोग Nimbu Ka Aushadhiy mein prayog



पेट के कीड़े – पेट के कीडो के लिए, नींबू के बीजो को पीसकर गुड़ में मिलाकर इसकी छोटी –छोटी गोलियां
बना ले, फिर एक कप पानी में नींबू निचोड़कर 1 गोली प्रातः खाली पेट ले.

पेट दर्द – पेट दर्द को दूर कने के लिए 1 चम्मच नींबू का रस, 1 चम्मच अदरक का रस और दो चम्मच शहद मिलाकर उसे पिये, ऐसा करने से पेट दर्द ठीक हो जायेगा.


चेहरे के दाग – दागो को हटाने के लिए 1 चम्मच मलाई में कुछ बूंदे नींबू के रस की मिलाकर रात को चेहरे पर धीरे – धीरे मले, फिर सुबह धो ले. दाग कम हो जाएगे और मुहांसे भी हट जाएगे.

खुजली – गर्म पानी में नींबू निचोड़कर स्नान करने से खुजली दूर हो जाती है. दमा – नींबू का रस, अदरक का रस और शहद गर्म पानी में मिलाकर पिने से दमा रोग दूर हो जाएगा.

जोड़ों का दर्द – जोड़ो में दर्द होने पर जहाँ दर्द है वहा पर नींबू का रस मलने से दर्द और सुजन दूर हो जाएगी.

हिस्टीरिया – गर्म पानी में नींबू का रस, नमक, हिंग, जीरा और पुदीना मिलाकर, इसे 40 दिनों तक पिने से हिस्टीरिया की बीमारी दूर हो जाएगी.

खूनी बवासीर – इसके लिए गर्म दूध में, आधा नींबू निचोड़कर 3 घण्टे के अंतर, अनुसार पिये.

बच्चो का मूत्रावरोध – इसके लिए नींबू के बीज को पीसकर उसका चूर्ण बना ले, फिर बच्चे की नाभि में भर दे.
नाभि में भरने के बाद उसके ऊपर ठंडा पानी डाल दे.

खाज –
नींबू के रस में करौंदा की जड़ पीसकर, उसे लगाने से खाज नही होगीं.

बाल झड़ना –
नींबू को काटकर सिर में मले, ऐसा करने से बालों का झड़ना बंद हो जाएगा.

कान का दर्द
– बिजौरा नींबू, अदरक व आम का रस मिलाकर गुनगुना कर कान में 2 बूंद डालें, ऐसा करने से कान का दर्द ठीक हो जाएगा.

जीभ पर छाले – नींबू के रस में रसौत पीसकर, उसे छालो पर लगाने से छाले ठीक हो जाते है.

पसीने की दुर्गन्ध – कांख में नींबू के पतो का रस लगाने से दुर्गन्ध दूर हो जाती है.

हैजा – नींबू और प्याज के रस को ठण्डे पानी में मिलाकर पिने से हैजा टीक हो जाता है.

खांसी – 4 ग्राम नींबू में, 10 ग्राम शहद मिलाकर उसे दिन में 3 बार चाटने से खांसी दूर हो जाती है.

पायरिया – नींबू का रस और शहद एक मात्रा में ले, और उसे मसूढ़ो पर लगायें.

कब्ज – 1 गिलास पानी ले, फिर उसमे एक नींबू का रस डालकर रात को सोने से पहले ले. या फिर आप 1 गिलास गर्म पानी ले, फिर उसमे सैंधा नमक डाले और उसका सेवन करे. ऐसा करने से पुराना कब्ज भी दूर हो जाएगा.

दांत दर्द – थोड़ी – सी लौंग पीसकर उसमे नींबू का रस मिलाये, फिर उसे दांतों पर लगाए. उसके बाद दांतों पर
थोड़ा – सा खाने का सोडा लगा ले. ऐसा करने पर आपको दर्द में आराम मिलेगा.

पथरी – 1 गिलास पानी ले. उसमे 1 नींबू निचोड़कर, सैंधा नमक मिलाकर सुबह – शाम पीने से पथरी निकल जाती है.

पथरी का दर्द – अंगूर के आठ पते ले, उन पर आधा नींबू निचोड़कर उन्हें पीस ले. इसकी 2 चम्मच मात्रा हर दो घंटे में, तीन बार लेने से पथरी का दर्द दूर हो जाएगा.

सिर चकराना – गर्म पानी में नींबू निचोड़कर पिने से सिर चकराना बंद हो जाता है.

सिरदर्द – चाय में दूध मिलाने की जगह नींबू का रस डालकर पिने से सिरदर्द दूर हो जाता है. या फिर नींबू की
पत्तियों का रस निकालकर उसे सूंघे, इससे भी सिरदर्द दर्द दूर हो जाता है.

उल्टी – नींबू में शक्कर या कालीमिर्च लगा कर चूसने से उल्टी आनी बंद हो जाती है और नींबू में इलायची भरकर चूसने से भी उल्टी आना बंद हो जाती है.

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel